हालांकि, यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि निश्चित लागत का एक हिस्सा अवशोषण की लागत के तहत उत्पादन की प्रत्येक इकाई को सौंपा गया है, जिसे आम तौर पर स्वीकृत लेखांकन सिद्धांतों (जीएएपी) के तहत बाहरी रिपोर्टिंग के लिए आवश्यक है। उदाहरण के लिए, यदि कोई कारखाना किसी निश्चित अवधि में 10,000 विजेट का निर्माण करता है, और कंपनी भवन के लिए किराए में $ 30,000 का भुगतान करती है, तो $ 3 की लागत को अवशोषण लागत के तहत प्रत्येक विजेट के लिए जिम्मेदार ठहराया जाएगा।

झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन

सकल लाभ क्या है? | Gross Profit Meaning in Hindi

सकल लाभ किसी वस्तु या सेवाओं के उत्पादन में अपने श्रम और आपूर्ति का उपयोग करने पर कंपनी की दक्षता का आकलन करता है। मीट्रिक ज्यादातर परिवर्तनीय लागतों पर विचार करता है - यानी, लागत जो उत्पादन के स्तर के साथ उतार-चढ़ाव होती है, जैसे:


  • प्रत्यक्ष श्रम, यह मानते हुए कि यह प्रति घंटा या अन्यथा आउटपुट स्तरों पर निर्भर है
  • बिक्री स्टाफ के लिए कमीशन
  • ग्राहक खरीदारी प्रोफिट लें क्या है? प्रोफिट लें क्या है? पर क्रेडिट कार्ड शुल्क
  • उपकरण, शायद उपयोग-आधारित मूल्यह्रास सहित
  • उत्पादन साइट के लिए उपयोगिताओं
  • शिपिंग

जैसा कि आम तौर पर परिभाषित किया गया है, सकल लाभ में निश्चित लागतें शामिल नहीं हैं (यानी, लागतें जो उत्पादन के स्तर की परवाह किए बिना भुगतान की जानी चाहिए)। निश्चित लागत में किराया, विज्ञापन, बीमा, कर्मचारियों के लिए वेतन शामिल हैं जो सीधे उत्पादन और कार्यालय की आपूर्ति में शामिल नहीं हैं।

सकल लाभ बनाम सकल लाभ मार्जिन

सकल लाभ का उपयोग किसी अन्य मीट्रिक की गणना करने के लिए किया जा सकता है, सकल लाभ मार्जिन। यह मीट्रिक समय के साथ कंपनी की उत्पादन क्षमता की तुलना करने के लिए उपयोगी है। बस साल-दर-साल या तिमाही से सकल लाभ की तुलना करना भ्रामक हो सकता है, क्योंकि सकल मार्जिन में गिरावट के साथ सकल लाभ बढ़ सकता है, एक चिंताजनक प्रवृत्ति जो एक कंपनी को गर्म पानी में उतार प्रोफिट लें क्या है? सकती है।

हालाँकि ये शब्द समान हैं (और कभी-कभी इंटरचेंज के रूप में उपयोग किए जाते हैं), सकल मार्जिन सकल लाभ मार्जिन के समान नहीं है। सकल लाभ को मुद्रा मूल्य के रूप में व्यक्त किया जाता है, प्रतिशत के प्रोफिट लें क्या है? रूप में सकल लाभ मार्जिन। सकल लाभ मार्जिन के लिए सूत्र

सकल लाभ का उपयोग करने की सीमाएं (Limitations of Gross Profit)

वित्तीय डेटा सेवाओं द्वारा तैयार मानकीकृत आय विवरण थोड़ा अलग सकल लाभ दे सकते हैं। ये कथन आसानी से एक अलग लाइन आइटम के रूप में सकल लाभ प्रदर्शित करते हैं, लेकिन वे केवल सार्वजनिक कंपनियों के लिए उपलब्ध हैं।

निजी कंपनियों की आय की समीक्षा प्रोफिट लें क्या है? करने वाले निवेशकों को एक गैर-मानकीकृत बैलेंस शीट पर लागत और व्यय की वस्तुओं के साथ खुद को परिचित करना चाहिए जो कि सकल लाभ की गणना में कारक नहीं है।

सकल लाभ क्या है? | Gross Profit Meaning in Hindi

सकल लाभ क्या है? | Gross Profit Meaning in Hindi Reviewed by Thakur Lal on मई 09, 2020 Rating: 5

लाभ - हानि के सूत्र पर आधारित प्रश्न / उत्तर | Labh Hani Ke Formula & Sawal / Short Tricks | Profit and Loss in Hindi - Part-2

गणित के अध्याय की Profit & Loss टॉपिक्स की पिछली पोस्ट में हमने लाभ & हानि, लाभ / हानि की परिभाषा, लाभ - हानि के सूत्र तथा लाभ और हानि की ट्रिक्स / शॉर्टकट्स के बारे में पढ़ा था। इसके साथ Profit & Loss पर आधारित लाभ / हानि के 30 सवाल भी हल किये थे

आज हम यहाँ Profit & Loss Part - 2 देरहा हूँ। यहाँ हमने लाभ - हानि के सूत्र पर आधारित प्रश्न दिए हैं और यह समझाने का प्रयास किया है कि लाभ - हानि के प्रश्न सूत्र का प्रयोग करके कितनी आसानी से हल किया जा सकता है।

लाभ - हानि के प्रोफिट लें क्या है? सूत्र का प्रयोग करके प्रश्न हल करने प्रश्न जल्दी हल होने के साथ समय की बचत होती है जोकि प्रतियोगी परीक्षाओं SSC, IBPS Bank , LIC, RRB, SBI, UPSC & State / Central Exams,आदि में किसी भी Student का सिलेक्शन होने में एक बहुत बड़ा फैक्टर माना जाता है।

नेट प्रॉफिट की गणना कैसे करें?

नेट प्रॉफिट की गणना करने के लिए सामान्य सूत्र यही है कि कुल राजस्व में से कुल व्यय घटाकर शुद्ध लाभ प्राप्त किया जा सकता है. इसका विस्तृत सूत्र के रूप में इसप्रकार व्यक्त किया जा सकता है – Gross Profit – Operating Expenses -Other Expenses – Taxes – Interest on loans + Other Income = Net Profit .

आप निम्न फॉर्मूला से भी समझ सकते हैं –

Net Profit = Total Income/Revenue – Total Expenses

Net profit = gross profit – expenses

Net Profit = Gross Profit + Indirect Incomes – Indirect Expense

इसतरह से आप समझ चुके हैं कि व्यवसाय के सारे खर्चे निकालने के बाद जो लाभ बचता है वही नेट प्रॉफिट है. अब यहाँ पर यह समझना है प्रोफिट लें क्या है? कि व्यवसाय से सारे खर्चों (Total Expenses) का क्या तात्पर्य होता है.

Gross profit और net profit के बीच अंतर

Gross profit वह लाभ होता है जो व्यवसाय द्वारा बेची गई वस्तुओं की लागत घटाकर अर्जित किया है अर्थात Gross profit = Net sales – Cost of goods sold जबकि शुद्ध लाभ वह लाभ है जो व्यवसाय द्वारा कुल आय से सभी खर्चों को घटाकर अर्जित किया जाता है अर्थात नेट प्रॉफिट = Total Revenue – Total Expenses.

Gross profit, trading account का बैलेंस होता है जबकि नेट प्रॉफिट लाभ और हानि खाते के क्रेडिट बैलेंस को दर्शाता है.

मैं इस हिंदी ब्लॉग का संस्थापक हूँ जहाँ मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी जानकारी प्रस्तुत करता हूँ. मैं अपनी शिक्षा की बात करूँ तो मैंने Accounts Hons. (B.Com) किया हुआ है और मैं पेशे से एक Accountant भी रहा हूँ.

प्रॉफिट मार्जिन क्या है?

प्रॉफिट मार्जिन किसी कंपनी की वित्तीय स्थिति के आकलन का एक सटीक तरीका माना जाता है। कंपनी की कुल बिक्री व लाभ के अनुपात के आधार पर इसे निकाला जाता है। कुल बिक्री से कुल लागत को घटाने से मुनाफा निकाला जाता है। कुल बिक्री मूल्य व लाभ फीसद का अनुपात ही लाभ माजि

प्रॉफिट मार्जिन किसी कंपनी की वित्तीय स्थिति के आकलन का एक सटीक तरीका माना जाता है। कंपनी की कुल बिक्री व लाभ के अनुपात के आधार पर इसे निकाला जाता है। कुल बिक्री से कुल लागत को घटाने से मुनाफा निकाला जाता है।

कुल बिक्री मूल्य व लाभ फीसद का अनुपात ही लाभ मार्जिन है। उदाहरण के तौर पर अगर किसी उत्पाद की लागत अगर 100 रुपये है और उसकी कीमत 150 रुपये है तो यहां लाभ हुआ 50 रुपये। यानी कंपनी ने 50 फीसद का मुनाफा कमाया। 50 फीसद का मुनाफा कंपनी के बिक्री मूल्य का 33.33 फीसद हुआ। यह 33.33 फीसद ही कंपनी का प्रॉफिट मार्जिन हुआ। कंपनी प्रबंधन प्रॉफिट मार्जिन का इस्तेमाल अपने निवेश संबंधी आंतरिक फैसले करने में व्यापक तौर पर करता है।

हेमंत सोरेन की विधानसभा की सदस्यता जा सकती है

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की विधानसभा सदस्यता रद्द हो सकती है. चुनाव आयोग ने सीएम सोरेन की सदस्यता रद्द करने की सिफारिश राज्यपाल रमेश बैस को भेजी है. बीजेपी ने सोरेन पर खुद को एक खनन पट्टा जारी करके चुनावी कानून का उल्लंघन करने का आरोप लगाया था. बीजेपी ने हेमंत सोरेन को विधायक के तौर पर सदस्यता रद्द रकने की मांग की थी. राज्यपाल ने इस मामले को चुनाव आयोग को भेजा था. अब चुनाव आयोग ने अपनी राय बंद लिफाफे में राज्यपाल को भेज दी है.

क्या है 'लाभ का पद'-
लाभ का पद का मतलब उस पद से होता है जिस पर रहते हुए कोई शख्स सरकार की ओर से किसी भी तरह की सुविधा लेने का अधिकारी हो. अगर कोई व्यक्ति इस पद का लाभ उठा रहा है तो वो सदन का सदस्य नहीं रह सकता है.

विधानसभा में 'लाभ का पद'-
विधायकों के लिए संविधान में लाभ के पद का जिक्र किया है. जिसपर रहते हुए कोई व्यक्ति विधानसभा का सदस्य नहीं हर सकता है. संविधान के अनुच्छेद 191(1)(ए) में इसका जिक्र है. इसके मुताबिक अगर कोई विधायक किसी लाभ के पद पर पाया जाता है तो उसकी सदस्यता रद्द की जा सकती है.

रेटिंग: 4.71
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 208