Moneycontrol 10-12-2022 Moneycontrol Hindi

Paytm Buyback: 75% डिस्काउंट पर हैं शेयर तो भी बायबैक के फैसले पर बहस शुरू, बिजनेस मॉडल में कहां है खामी?

Paytm Buyback: पेटीएम के बॉयबैक पर चर्चाएं शुरू हो गई है कि क्या यह पूंजी का सही इस्तेमाल है? आमतौर पर शेयर बॉयबैक का फैसला कंपनी तब करती है जब उसके पास नगदी की अधिकता होती है तो वह इसे शेयरहोल्डर्स को क्रिप्टो लेंडिंग को अच्छे से समझने के लिए उदाहरण इस विंडो के जरिए देने का फैसला करती है।

Paytm Buyback: पेटीएम की पैरेंट कंपनी वन 97 कम्यूनिकेशंस (One 97 Communications) ने गुरुवार को शेयर बाजारों को अपने बायबैक की योजना की जानकारी दी थी। इसके अगले दिन शेयरों में शानदार उछाल रही। हालांकि बायबैक को लेकर चर्चाएं शुरू हो गई है कि क्या यह पूंजी का सही इस्तेमाल है? आमतौर पर शेयर बायबैक का फैसला कंपनी तब करती है जब उसके पास नगदी की अधिकता होती है तो वह इसे शेयरहोल्डर्स को इस विंडो के जरिए देने का फैसला करती है। सितंबर 2022 के नतीजे के मुताबिक पेटीएम के पास 9182 करोड़ रुपये की नगदी है जिसमें से 5600 करोड़ रुपये आईपीओ के जरिए जुटाए गए पैसों में से बचा हुआ फंड है। हालांकि पेटीएम के आईपीओ निवेशकों की पूंजी जब 75 फीसदी घट चुकी है तो ऐसे समय में शेयर बायबैक का फैसला क्यों लिया जा रहा है। इसे लेकर सभी तरह के जो सवाल उठ रहे हैं, उनके जवाब नीचे दिए जा रहे हैं।

कहां आ रही है दिक्कत

Paytm का बिजनेस मॉडल कारगर नहीं दिख रहा है। निवेशकों को इसके कारोबार में भरोसा कम है और उसके मैनेजमेंट में उससे भी कम। पेटीएम का मैनेजमेंट निवेशकों को भरोसा ही नहीं दिला पा रहा कि उसका कारोबारी मॉडल बेहतर है। कई इंस्टीट्यूशनल निवेशक पेटीएम से सम्मानजनक तरीके से यानी कि अगर अच्छा मुनाफा न मिले क्रिप्टो लेंडिंग को अच्छे से समझने के लिए उदाहरण तो कम से कम नुकसान में निकला जा सके।

Paytm Buyback: 75% डिस्काउंट पर हैं शेयर तो भी बायबैक के फैसले पर बहस शुरू, बिजनेस मॉडल में कहां है खामी?

Paytm Buyback: पेटीएम के बॉयबैक पर चर्चाएं शुरू हो गई है कि क्या यह पूंजी का सही इस्तेमाल है? आमतौर पर शेयर बॉयबैक का फैसला कंपनी तब करती है जब उसके पास नगदी की अधिकता होती है तो वह इसे शेयरहोल्डर्स को इस विंडो के जरिए देने का फैसला करती है।

Paytm Buyback: पेटीएम की पैरेंट कंपनी वन 97 कम्यूनिकेशंस (One 97 Communications) ने गुरुवार को शेयर बाजारों को अपने बायबैक की योजना की जानकारी दी थी। इसके अगले दिन शेयरों में शानदार उछाल रही। हालांकि बायबैक को लेकर चर्चाएं शुरू हो गई है कि क्या यह पूंजी का सही इस्तेमाल है? आमतौर पर शेयर बायबैक का फैसला कंपनी तब करती है जब उसके पास नगदी की अधिकता होती है तो वह इसे शेयरहोल्डर्स को इस विंडो के जरिए देने का फैसला करती है। सितंबर 2022 के नतीजे के मुताबिक पेटीएम के पास 9182 करोड़ रुपये की नगदी है जिसमें से 5600 करोड़ रुपये आईपीओ के जरिए जुटाए गए पैसों में से बचा हुआ फंड है। हालांकि पेटीएम के आईपीओ निवेशकों की पूंजी जब 75 फीसदी घट चुकी है तो ऐसे समय में शेयर बायबैक का फैसला क्यों लिया जा रहा है। इसे लेकर सभी तरह के जो सवाल उठ रहे हैं, उनके जवाब नीचे दिए जा रहे हैं।

कहां आ रही है दिक्कत

Paytm का बिजनेस मॉडल कारगर नहीं दिख क्रिप्टो लेंडिंग को अच्छे से समझने के लिए उदाहरण रहा है। निवेशकों को इसके कारोबार में भरोसा कम है और उसके मैनेजमेंट में उससे भी कम। पेटीएम का मैनेजमेंट निवेशकों को भरोसा ही नहीं दिला पा रहा कि उसका कारोबारी मॉडल बेहतर है। कई इंस्टीट्यूशनल निवेशक पेटीएम से सम्मानजनक तरीके से यानी कि अगर अच्छा मुनाफा न मिले तो कम से कम नुकसान में निकला जा सके।

उच्च गुणवत्ता वाली वेबसाइट आवागमन की गारंटी

2000 नि: शुल्क पृष्ठ दृश्य क्रिप्टो लेंडिंग को अच्छे से समझने के लिए उदाहरण प्राप्त करें
महज 1 घंटे में

मैंने स्पार्कट्रैफिक की कोशिश की है, विश्वसनीय ट्रैफ़िक प्राप्त करने के लिए यह सिर्फ रात का खाना तेज़ सेवा है। मेरी वेबसाइट पर भेजे गए सभी हिट कार्बनिक खोज ट्रैफ़िक के रूप में दिखाई दे रहे हैं, यह 100% सुरक्षित है।

मेरी वेबसाइट हाल ही में गूगल ऐडसेंस द्वारा अनुमोदित किया गया था, लेकिन मैं यातायात की कमी के कारण छोड़ने वाला था. आज, मैंने स्पार्कट्रैफिक परीक्षण के लिए साइन अप किया, और मिनटों के भीतर मेरे पास एक दिमाग उड़ाने वाला ट्रैफ़िक था। मैं निश्चित रूप से स्पार्कट्रैफिक का सुझाव दूंगा।

स्पार्कट्रैफिक मुझे और मेरे ग्राहकों को हमारी वेबसाइटों की रैंकिंग में बेहतर स्कोर करने में मदद करता है। मैं इसे बहुत लंबे समय से उपयोग कर रहा हूं और मुझे यह पसंद है।

मैं ब्लॉग वेबसाइटों बनाया है और इस वेबसाइट ने मुझे अपना पहला ट्रैफ़िक प्राप्त करने में मदद की, उनके पास 2000 मुफ्त ट्रैफ़िक है ताकि आप खरीदने से पहले इसे आज़मा सकें

मैंने एक नया ब्लॉग बनाया है और मैं भ्रमित था कि मैं ट्रैफ़िक प्राप्त करने के लिए अपनी साइट को बढ़ावा दे सकता हूं, फिर उसी समय मेरे एक दोस्त ने स्पार्क ट्रैफ़िक के बारे में बताया। मैं अपनी वेबसाइट यहाँ साझा करें और आवागमन के क्रिप्टो लेंडिंग को अच्छे से समझने के लिए उदाहरण बहुत मिलता है.

यह केवल एक दिन रहा है और पहले से ही मुझे ऐसे विचार मिले हैं जिन्हें प्राप्त करने में मुझे 5 से 6 दिन लगेंगे। स्पार्क यातायात भयानक है. मुझे सामग्री का उत्पादन करने और मेरी वेबसाइट के लिए अधिक लेख प्रकाशित करने के लिए और अधिक प्रेरित करना। इसे आज़माएं और अपने लिए परिणाम देखें।

लाखों लोगों द्वारा यातायात खरीदें

हम आपकी सभी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए उच्च गुणवत्ता वाले ट्रैफ़िक प्रदान करते हैं। बड़ी संख्या के बाद? कोई बात नहीं! हम आपको लाखों मासिक यात्राएं क्रिप्टो लेंडिंग को अच्छे से समझने के लिए उदाहरण प्रदान कर सकते हैं।
रूपांतरण की आवश्यकता है? हमारे प्रीमियम ट्रैफ़िक का प्रयास करें जहां हम वास्तविक, 100% मानव आगंतुकों को सीधे आपकी वेबसाइट पर गारंटी देते हैं।

नि: शुल्क भू-लक्ष्यीकरण

एक बार जब आप किसी योजना के लिए साइन अप कर लेते हैं, तो आप चुन सकते हैं कि आप अपना ट्रैफ़िक कहाँ से आना चाहते हैं। आपके पास उत्तरी अमेरिका, दक्षिण अमेरिका, एशिया और यूरोप जैसे दुनिया के व्यापक क्षेत्रों से चुनने की क्षमता है। वैकल्पिक रूप से, हमारे अल्टीमेट प्रो या मैक्स प्रो मूल्य निर्धारण योजना का चयन करके, आप विशिष्ट शहरों को लक्षित करते हुए अपने दर्शकों को सुधार सकते हैं।

अपनी वेबसाइट ट्रैफ़िक को नियंत्रित करें

आप अपनी वेबसाइट के ट्रैफ़िक के सभी मापदंडों के नियंत्रण में हैं। कम उछाल दर से उच्च रिटर्न दर तक, आपके अवसर अंतहीन हैं!

अपने ट्रैफ़िक स्रोतों को चुनें। चाहे आप सामाजिक, जैविक या प्रत्यक्ष ट्रैफ़िक चाहते हैं, आपको बस अपनी पसंदीदा रेफरर सेटिंग्स चुननी है और सिस्टम आपके लिए बाकी करता है।

किसी भी समय अपने प्रोजेक्ट से यूआरएल जोड़ें या निकालें। सभी परिवर्तन मिनटों के भीतर आपके गूगल एनालिटिक्स में दिखाई देते हैं।

साइटमैप और आरएसएस फ़ीड कनेक्शन. क्या आप ट्रैफ़िक को नए पृष्ठों पर भेजना चाहते हैं क्योंकि वे प्रकाशित होते हैं? हमें अपने साइटमैप या आरएसएस फ़ीड से कनेक्ट करें, और हम स्वचालित रूप से आपकी साइट के सभी यूआरएल लाएंगे।

Paytm Buyback: 75% डिस्काउंट पर हैं शेयर तो भी बॉयबैक के फैसले पर बहस शुरू, बिजनेस मॉडल में कहां है खामी?

Moneycontrol लोगो

Moneycontrol 10-12-2022 Moneycontrol Hindi

© Moneycontrol द्वारा प्रदत्त क्रिप्टो लेंडिंग को अच्छे से समझने के लिए उदाहरण Paytm Buyback: 75% डिस्काउंट पर हैं शेयर तो भी बॉयबैक के फैसले पर बहस शुरू, बिजनेस मॉडल में कहां है खामी? Paytm Buyback: पेटीएम की पैरेंट कंपनी वन 97 कम्यूनिकेशंस (One 97 Communications) ने गुरुवार को शेयर बाजारों को अपने बॉयबैक की योजना की जानकारी दी थी। इसके अगले दिन शेयरों में शानदार उछाल रही। हालांकि बॉयबैक को लेकर चर्चाएं शुरू हो गई है कि क्या यह पूंजी का सही इस्तेमाल है? आमतौर पर शेयर बॉयबैक का फैसला कंपनी तब करती है जब उसके पास नगदी की अधिकता होती है क्रिप्टो लेंडिंग को अच्छे से समझने के लिए उदाहरण तो वह इसे शेयरहोल्डर्स को इस विंडो के जरिए देने का फैसला करती है। सितंबर 2022 के नतीजे के मुताबिक पेटीएम के पास क्रिप्टो लेंडिंग को अच्छे से समझने के लिए उदाहरण 9182 करोड़ रुपये की नगदी है जिसमें से 5600 करोड़ रुपये आईपीओ के जरिए जुटाए गए पैसों में से बचा हुआ फंड है। हालांकि पेटीएम के आईपीओ निवेशकों की पूंजी जब 75 फीसदी घट चुकी है तो ऐसे समय में शेयर बॉयबैक का फैसला क्यों लिया जा रहा है। इसे लेकर सभी तरह के जो सवाल उठ रहे हैं, उनके जवाब नीचे दिए जा रहे हैं। Paytm Share Price: बॉयबैक की योजना पर जमकर हो रही खरीदारी, 7% उछल गए पेटीएम के शेयर कहां आ रही है दिक्कत Paytm का बिजनेस मॉडल कारगर नहीं दिख रहा है। निवेशकों को इसके कारोबार में भरोसा कम है और उसके मैनेजमेंट में उससे भी कम। पेटीएम क्रिप्टो लेंडिंग को अच्छे से समझने के लिए उदाहरण का मैनेजमेंट निवेशकों को भरोसा ही नहीं दिला पा रहा कि उसका कारोबारी मॉडल बेहतर है। कई इंस्टीट्यूशनल निवेशक पेटीएम से सम्मानजनक तरीके से यानी कि अगर अच्छा मुनाफा न मिले तो कम से कम नुकसान में निकला जा सके। हालांकि ऐसी स्थिति बनती नहीं दिख रही है क्योंकि पहले ही यह इश्यू प्राइस से करीब 75 फीसदी डिस्काउंट पर है। पेटीएम के मैनेजमेंट ने अपनी तरफ से एनालिस्टों को अपने बिजनेस मॉडल और आगे के कदमों के बारे में समझाने की पूरी कोशिश की लेकिन कुछ दिनों तक मजबूती के बाद फिर कमजोरी दिखने लगी। क्या है Paytm का बिजेनस मॉडल सितंबर 2023 में पेटीएम का रिजल्ट बेहतर रहा और कंपनी ने सितंबर 2023 तक ब्रेक-इवन हासिल करने का लक्ष्य रखा है। इसके बावजूद पेटीएम का बिजनेस म़ॉडल निवेशकों को भरोसेमंद नहीं लग रहा है। पेटीएम में भरोसा करने वाले एनालिस्ट्स इसके लेंडिंग बिजनेस के दम पर दांव लगा रहे हैं जो तेजी से बढ़ रहा है। पेटीएम फाइनेंसर्स और ग्राहकों के बीच एक माध्यम के तौर पर काम करती है। हर लोन के लिए पेटीएम को कुछ हिस्सा मिलता है और जिस तेजी से लेंडिंग बिजनेस बढ़ रहा, पेटीएम की कमाई भी बढ़ रही है। अक्टूबर 2022 तक इसने 37 हजार करोड़ रुपये के सालाना रन रेट पर लोन बांटे। लोन की वैल्यू अक्टूबर 2022 में सालाना आधार पर 387 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 3056 करोड़ रुपये और इसकी संख्या 161 फीसदी बढ़कर 34 लाख रही। इसके अलावा पेटीएम दुकानदारों को पेमेंट डिवाइस बेचती है जिसके लिए हर महीने एक निश्चित फीस लेती है। देश भर में ऐसे 51 लाख डिवाइस कंपनी ने बेचे हैं। अब कंपनी क्रिप्टो लेंडिंग को अच्छे से समझने के लिए उदाहरण ने मोबाइल बैलेंस रिचार्ज समेत कुछ ट्रांजैक्शन के लिए प्लेटफॉर्म फीस लेने लगी है। दिक्कत कहां आ रही है इस बिजनेस मॉडल में पेटीएम का लेंडिंग बिजेनस आगे बढ़ रहा है। पेमेंट डिवाइस के लिए यह दुकानदारों से हर महीने फीस लेती है। इसके अलावा कुछ ट्रांजैक्शन के लिए इसने चार्ज वसूलना शुरू कर दिया है। हालांकि यह किसी भी सेग्मेंट में लीडरशिप की स्थिति में नहीं है। उदाहरण के लिए अन्य लिस्टेड डिजिटल कारोबार के मामले में है जैसे कि एफएसएन ई-कॉमर्स यानी नायका, जोमैटो या पीबी फिनटेक। Crypto News Site के मालिक ने SBF से लिया करोड़ों का लोन, खरीदी प्रॉपर्टी, कंपनी को जानकारी ही नहीं, रिपोर्ट में अहम खुलासा Paytm के लिए क्या है उम्मीद की किरण पेटीएम का लेंडिंग कारोबार बेहतर तरीके से आगे बढ़ रहा है और इसी के दम पर एनालिस्ट्स पेटीएम पर दांव लगा रहे हैं। अब अगर पेमेंट बिजनेस की बात करें तो इसमें अगर स्थिति में बदलाव आता है तो पेटीएम को फायदा मिल सकता है। भारत में सबसे बड़ा पेमेंट नेटवर्क रूपे कार्ड (Rupay Card) है और यूपीआई ने भी लोगों को बिना किसी चार्ज के आसानी से पैसों के लेन-देन में सहूलियत दी है। अब यूपीआई जैसे-जैसे आगे बढ़ती है तो अगर बैंक इसकी सर्विसेज के लिए चार्ज लेने लगें तो पेटीएम को भी इससे फायदा मिलेगा। अभी जो सर्विसेज पेटीएम फ्री में दे रही है, उसके लिए भी कमाई होने लगेगी। इसके अलावा पेटीएम के लिए एक और स्थिति पॉजिटिव होगी, अगर इसे कोई ऐसी बड़ी कंपनी खरीद लेती है जो देश के डिजिटल रिटेल स्पेस में अपना दबदबा बनाना चाहती हो। हालांकि इनकी संभावना फिलहाल बहुत कम दिख रही है।

Moneycontrol की और खबरें

CSK अब अपने दम पर तैयार करेगी नए खिलाड़ी, शुरू किया नया वेंचर, IPL और क्रिकेट के अलावा दूसरे खेलों में भी आजमाएगी किस्मत

क्रिप्टो लेंडिंग को अच्छे से समझने के लिए उदाहरण

images286829 | Shivira

कच्चे धागे | मेरी आँखों मे देख तुझे तेरे बेटे लाखन की मौत नजर आएगी ।

1980 का दशक एक ऐसा दौर था जबकि फिल्मों में वास्तविक सुपर स्टार होते थे।…

images28529 | Shivira

पार्लियामेंट अटैक के शहीदों को पूरे देश की तरफ से आज सलामी

पार्लियामेंट अटैक 2001 | पार्लियामेंट अटैक के शहीदों को पूरे देश की तरफ से आज…

images284829 | Shivira

हल्दी की सब्जी बनाने का आसान तरीका | Easy way to make turmeric curry

हल्दी की सब्जी का नाम सुनते ही राजस्थान के निवासियों की बांछे खिल पड़ती है।…

pd4lrfko16u | Shivira

हेल्थकेयर वर्कर्स टुडे के सामने सबसे बड़ी चुनौतियां

चाबी छीन लेना: स्वास्थ्य कर्मियों को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है, जिसमें लंबे…

Epilepsy Foundation of India Making a Difference in the Lives of Those with Seizures 1 | Shivira

एपिलेप्सी फाउंडेशन ऑफ इंडिया: दौरे वाले लोगों के जीवन में एक अंतर बनाना

मुख्य विचार: एपिलेप्सी फाउंडेशन ऑफ इंडिया एक गैर-लाभकारी संगठन है जो दौरे से पीड़ित लोगों…

डूंगरपुर में घूमने की बेहतरीन जगहें

बेणेश्वर मंदिर जहां बहुमूल्य सोम और माही नदियां मिलती हैं, वहां स्थित पवित्र बेणेश्वर मंदिर…

tzoe6vcvqyg | Shivira

COVID-19 रोगियों के इलाज के लिए स्टेरॉयड का उपयोग करने के जोखिम

जैसे-जैसे दुनिया COVID-19 का इलाज खोजने के लिए दौड़ रही है, डॉक्टर सीख रहे हैं…

डूंगरपुर में मंदिर

बेणेश्वर मंदिर जहां बहुमूल्य सोम और माही नदियां मिलती हैं, वहां स्थित पवित्र बेणेश्वर मंदिर…

श्री गंगानगर के लोकप्रिय मेले और त्यौहार

गणगौर पर्व गणगौर राजस्थान की संस्कृति और विरासत का एक अभिन्न अंग है और पूरे…

24122 | Shivira

किशोर अभी भी बहुत सारे तम्बाकू विज्ञापन देखते हैं, जिन पर माता-पिता को निगरानी रखनी चाहिए

हम सभी जानते हैं कि तंबाकू और ई-सिगरेट का विज्ञापन किशोरों के लिए हानिकारक है,…

श्रीगंगानगर की कला और संस्कृति

बीसवीं शताब्दी की शुरुआत में, यह जिला कलाकारों और संगीतकारों की अधिकता से समृद्ध था।…

2819846 | Shivira

उम्र से संबंधित धब्बेदार अध: पतन से अपने रेटिना को कैसे सुरक्षित रखें

हर कोई जानता है कि आंखें महत्वपूर्ण हैं, लेकिन हर कोई नहीं जानता क्रिप्टो लेंडिंग को अच्छे से समझने के लिए उदाहरण कि वे…

श्री गंगानगर में यात्रा करने के लिए सर्वश्रेष्ठ स्थान

गुरुद्वारा बुद्ध जोहड़ साहिब श्री गंगानगर से 75 किमी दक्षिण-पश्चिम में स्थित, बुद्ध जोहड़ का…

रेटिंग: 4.32
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 351