5. इंट्रा डे ट्रेडिंग के लिए उन शेयरों का चयन करना ज्यादा सही माना जाता है जो इंडेक्स या सेक्टर के साथ साथ चलते हैं।

Gold Report

कॉटन 29 एमएम वायदा - दिसम्बर 22 (MCOTc1)

कॉटन 29 एमएम वायदा के लिए हिस्टोरिकल डेटा एक्सेस करें। आपको चुनी हुई तिथि की रेंज के लिए क्लोज़िंग मूल्य, ओपन, हाई, लो, बदलाव एवं प्रतिशत बदलाव मिलेंगे। यह डेटा रोज़ाना, साप्ताहिक एवं मासिक अंतराल पर दिखती है। टेबल के नीचे आपको चुनी हुई तिथियों की रेंज के लिए डेटा सारांश प्राप्त होगा।

उच्चतम : 33,850 निम्नतम : 31,080 अंतर : 2,770 औसत : 32,168 बदलें % : -4

Intraday इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए टिप्स Trading कैसे करे?

Day Trading करने के लिए आपको online trading platform (जैसे कि Zerodha, Upstock, Angel broking आदि) अंगेलब्र पर अपना demat account खोलना पड़ेगा। बिना डिमैट खाता के आप किसी भी तरह की ट्रेडिंग नहीं कर सकते हैं। इसलिए शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने के इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए टिप्स लिए डिमैट अकाउंट होना आवश्यक है। बता दूं कि intraday trading में काफी risk होता है। इसलिए डे ट्रेडिंग करने से पहले आपको कुछ खास जानकारी होना आवश्यक है। आइए तो फिर जानते हैं।

1. Intraday Trading करने के लिए आपके द्वारा चुने गए शेयर लिक्विड होना चाहिए। इसका मतलब यह हुआ कि जिस स्टॉक को आप खरीद रहे हैं उसमे वॉल्यूम हाई होना चाहिए। अगर किसी भी स्टॉक में वॉल्यूम कम है तो intraday trading के लिए उस share से दूर रहना चाहिए।

2. Intraday Trading करने के लिए सिर्फ 2 - 3 तीन अच्छे शेयरों का चुनाव करें।

3. शेयर के चुनाव से पहले बाजार का ट्रेंड देखे। इसके बाद ही intraday trading के लिए शेयर चुने।

Intraday Trading के फायदे क्या है?

Intraday Trading के advantages जाना बहुत जरूरी होता है। क्योंकि यह फायदे अन्य ट्रेडिंग से डे ट्रेडिंग को भिन्य करते हैं।

1. निवेश या डिलीवरी की तुलना में इंट्राडे ट्रेडिंग में कम capital कि जरूरत होती है।

2. Intraday Trading में कम समय में प्रॉफिट कमा लेते हैं। लंबे समय तक आपको इंतजार नहीं करना पड़ता है।

3. अगर stock market में volatility ज्यादा हुई तो ज्यादा कमाई कर सकते हैं।

4. Day Trading में आपको leverage ज्यादा मिलता है। लेकिन लीवरेज सुविधा सभी ब्रोकर की अपनी अलग अलग होती है।

5. Day Trading में overnight risk नहीं होता है। वहीं होल्डिंग और लॉन्ग टर्म निवेश में overnight risk होता है।

6. Intraday Trading में आपको short selling कि भी सुविधा मिल जाती है। इसका मतलब यह हुआ कि किसी स्टॉक को पहले बेच सकते हैं। इसके बाद कम रेट पर खरीद सकते हैं।

Intraday Trading के नुकसान क्या है?

डे ट्रेडिंग के आपने फायदे तो जान लिए है। इसी को देखकर आप intraday trading करने के लिए तैयार हो गए होगे। आपको लग रहा होगा कि intraday trading करना बहुत आसान होता है। लेकिन बता दू कि इंट्रा डे ट्रेडिंग के अगर advantages है, तो उसके कुछ disadvantages भी हैं। जिन्हे आपको जानना जरूरी है। तो आइए इसके नुकसान के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं।

1. डे ट्रेडिंग में कुछ समय में प्रॉफिट कमाया जाता है। तो दूसरी तरफ कुछ समय में पैसा गवाया भी जाता है।

2. डे ट्रेडिंग में आपको कोई fix return नहीं मिलता है। यानी कि यहां कोई fix salary नहीं होती है जिस पर आप डिपेंड हो सके।

3. Leverage, अगर आपका प्रॉफिट को मल्टीपल करने के लिए मददगार साबित होता है। तो दूसरी तरफ आपका नुकसान भी मल्टिप्ल करता है।

4. Intraday Trade के लिए आपका discipline होना जरूरी है। अगर आप discipline नहीं रहे तो बहुत बड़ा नुकसान कर सकते हैं।

निष्कर्ष-

Intraday Trading काफी risky होता है इसलिए intraday करने से पहले आपको मार्केट के बारे में जानकारी होनी चाहिए। मतलब यह कि यहां आज हर कोई पैसे कमाना चाहता है। लेकिन 90% लोगो के सफल ना होने का कारण उन्हें मार्केट के बारे में सही से जानकारी नहीं होती है।

अगर कुछ लोगो को मार्केट के बारे में जानकारी भी होती है तो money management या psychologically मजबूत नहीं होते हैं। Intraday में अगर आप इमोशंस पर ट्रेड करेगे, तो आपको भारी नुकसान झेलना पड़ सकता है।

इंट्राडे ट्रेडिंग में शेयरों में तेजी से उतार चड़ाव होते हैं। इसलिए किसी के सलाह पर ट्रेड बिल्कुल ना ले। ट्रेड लेने से पहले उसका लॉजिक आपके पास होना चाहिए। मतलब यह की किसी भी ट्रेड को लेने से पहले आपको research और समझ विकसित करने की आवश्यकता है।

उम्मीद करता हूं कि आपको हमारा आज का लेख intraday trading क्या है? पसंद आया होगा। अगर आपको शेयर बाजार के बारे में जानकारी चाहिए तो हमारे साथ जुड़े रहे। साथ ही इस पोस्ट को social media platforms जैसे कि फेसबुक, वॉट्सएप, आदि पर अपने दोस्तो को जरूर शेयर करें। ताकि वह भी इंट्रा डे ट्रेडिंग के बारे में जानकारी हासिल कर सके।

ब्याज दर में 50 बीपीएस अंकों की बढ़ोतरी की उम्मीद

व्यापारी अब दिन में बाद में होने वाली फेड बैठक पर ध्यान केंद्रित करेंगे। ब्याज दर में 50 बीपीएस अंकों की बढ़ोतरी की उम्मीद है। कीमतों ने 55000 के स्तर का नया बहु-महीने का उच्च स्तर बनाया। दैनिक चार्ट पर, मोमेंटम इंडिकेटर, आरएसआई, 60 के स्तर से ऊपर कारोबार कर रहा है और कीमत 20 और 60 दिनों के ईएमए से ऊपर कारोबार कर रही है, जो कीमतों के लिए सकारात्मक है। इसने एक बड़ी बुलिश कैंडल बनाई है और पिछले सत्र के उच्च स्तर से ऊपर इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए टिप्स बंद हुआ है, जो संकेत देता है कि रुझान मजबूत है।

अमेरिकी उपभोक्ता कीमतों में अपेक्षा से कम वृद्धि के आंकड़ों के बाद मंगलवार को सोने की कीमतें 2% से अधिक चढ़कर पांच महीने से अधिक के अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गईं, अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा दरों में वृद्धि में मंदी के लिए पुख्ता दांव लगाए गए। इसके अलावा, अमेरिकी डॉलर इंडेक्स और अमेरिकी ट्रेजरी यील्ड में तेज गिरावट से सोने की कीमतों को समर्थन मिला।

रेटिंग: 4.84
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 718